Share
Share
shyam
  • 14th Jan 19

  • By Shyam Purwal

नमस्कार मेरा नाम श्याम पुरवाल है| मैं एक मध्यम वर्गीय परिवार का रहने वाला हूँ | आज मैं आप सभी के सामने अपनी ज़िद्द की एक कहानी बताने वाला हूँ | मैंने 12वी कक्षा से ही पार्ट टाइम नौकरी शुरू करदी थी| क्योंकि मेरे मन में यही था की मुझे आगे चलकर एक बहुत बड़ा आदमी बनना है| मैंने अपनी 12वी कक्षा ख़तम करते ही मैं iit jee में गया लेकिन वहां की परीक्षा में सफल नहीं हो पाया| उसके बाद घर की कुछ परेशनियों की वजह से मैंने छोटे कॉलेज में एडमिशन लेने की सोची पर वहां पर भी मैं एडमिशन नहीं ले पाया | इसी वजह से मैंने अपने एक साल ड्राप करा और उस एक साल में मैंने pizzahut में पार्ट टाईम नौकरी शुरू करी और उसके साथ मैंने डिप्लोमा में एडमिशन लिया साथ ही साथ मैंने कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए फीस भी इकठी करि| और कुछ ही समय बाद मैंने और मेरे छोटे भाई ने एक छोटा सा बिज़नेस शुरू करा जो की मात्र 6.5 हज़ार रुपये से शुरू करा था| और साथ ही मैंने कॉलेज में भी एडमिशन ले लिया| कॉलेज के साथ ही मैं उस बुसिनेस को देखता था पर वह बिज़नेस अब 10 लाख तक पहुँच गया है| साथ ही साथ मेरी कॉलेज से एक अच्छी जगह नौकरी भी लग गई और अब मैं एक साइट इंजीनियर के रूप में काम कर रहा हूँ और मेरा बिज़नेस भी अच्छा चल रहा है| यह थी मेरी कहानी ज़िद्द की और मैंने उसे पूरा करा|

क्या है आपकी कहानी ज़िद्द की ? हमें बताएँ   +91-8448983000