• January 5.2021

  • एम नेत्रा

कोरोना वायरस लॉकडाउन में गरीबों की मदद करने वाली तमिलनाडु के सैलून संचालन की बेटी एम. नेत्रा को यूनाइटेड नेशंस एसोसिएशन फॉर डेवलपमेंट एंड पीस के लिए गुडविल एंबेसडर टू द पुअर नियुक्त किया गया है। नेत्रा के पिता तमिलनाडु में एक सैलून चलाते हैं। लॉकडाउन में नेत्रा के पिता मोहन ने उसकी पढ़ाई से लिए बचाए गए 5 लाख रुपयों से गरीबों की मदद की थी। इस काम के लिए नेत्रा ने ही पिता को उत्साहित किया था। पिछले दिनों प्रधानमंत्री मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम मन की बात में भी नेत्रा और उनके पिता द्वारा किए गए काम का जिक्र किया था।

वठअऊअढ की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि यह स्थिति नेत्रा को दुनिया के नेताओं, शिक्षाविदों, राजनेताओं और नागरिकों से बात करने का अवसर और जिम्मेदारी देगी, जिससे गरीब लोगों तक पहुंचने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके। इसके साथ ही नेत्रा को संयुक्त राष्ट्र के सम्मेलनों और सिविल सोसायटी के मंचों पर बोलने और सम्मेलनों को संबोधित करने का अवसर दिया जाएगा। नेत्रा और उनके पिता द्वारा किए गए इस काम की सरहाना तमिलनाडु के मंत्री सेलुर राजू ने भी की थी। उन्होंने कहा था कि वह प्रदेश के मुख्यमंत्री पलानीसामी से स्वर्गीय जे जयललिता के नाम पर एक पुरस्कार से इस बच्ची को सम्मानित करने का निवेदन करेंगे।

पीएम मोदी ने की तारीफ
दरअसल, पीएम मोदी मन की बात कार्यक्रम में नेत्रा और उनके पिता का जिक्र करते हुए तारीफों के पुल बांधे थे। पीएम मोदी ने कहा था, मोहन जी मदुरै में सैलून चलाते हैं। कड़ी मेहनत से उन्होंने अपनी बेटी की पढ़ाई के लिए 5 लाख रुपये जोड़े थे। लेकिन इस मुश्किल समय में उन्होंने अपनी बच्ची की पढ़ाई के लिए बचाकर रखे गए पैसों को गरीब और जरूरतमंद लोगों पर खर्च कर दिया।

क्या है आपकी कहानी ज़िद्द की ? हमें बताएँ   +91-8448983000