• October 31.2020

  • मंजू

स्वच्छता ना केवल हमारे घरो और सड़को के दायरे तक सिमित होना चाहिए बल्कि हमे अपने पुरे देश की स्वच्छता को मध्येनजर रखते हुए अपने सम्पूर्ण वातावरण की सफाई का ध्यान रखना चाहिए। भारत सरकार द्वारा चलायी गयी स्वच्छता अभियान के अंतर्गत गाऊँ-गाऊँ, शहर-शहर , सड़को तथा शौचालय का निर्माण कार्य काफी ज़ोरो पर है जिससे हिंदुस्तान की जनता को निश्चिन्त रूप से लाभ तथा स्वस्थिय प्रदान होगा। इसी मुहीम से जुडी मैं मंजू , बीजेपी के सहयोग से अपना योगदान दे रही हूँ।

मै एक हाउस वाइफ थी परन्तु 2006 मै मेरे पति की मृत्य के बाद मुझे कही कठानियो से गुज़ारना पड़ा। एक वक़्त ऐसा भी आगया था की जब समझ नहीं आया की अपने 3 बच्चो का लालन पोषण कैसे होयेगा। आर्थिक तंगी ने जैसे मुझे जकड़ लिया था ,जिससे मै बहार नहीं आ पा रही थी। तब मैंने बज्जप से जुडी , मेरी कड़ी मेहनत से मैंने धीरे-धीरे अपनी आर्थिक स्थिति सुधारि। बीजेपी सरकार की ये पहल मेरे दिल मे घर कर गयी और मैं इससे ऐसे जुडी कि मुझे जीवन का लक्ष्य मिल गया। मुझे जहाँ गन्दगी, कूड़ा दीखता हैं मैं उसी समय कूड़ा उठाकर कचरे के डिब्बे मै फेंकती हूँ और अपने आस पास के लोगो को भी समझती हूँ सफ़ाई के अच्छे परिणाम। अपने भारत को स्वच्छ रखने की ज़िद्द ने मुझे कभी निराश नहीं किया, मेरी यह ज़िद्द भारत को कूड़ा रहित भारत तथा स्वच्छ भारत बनाकर ही सांस लेगी।

क्या है आपकी कहानी ज़िद्द की ? हमें बताएँ   +91-8448983000